शरीर का पर्यायवाची शब्द | Sharir Ka Paryayvachi Shabd

शरीर का पर्यायवाची शब्द | Sharir Ka Paryayvachi Shabd : काया, बदन, अंग, देह, वपु, तन, जिस्म, कलेवर, अवय, गात्र, गात आदि, आज की नई पोस्ट शरीर का पर्यायवाची शब्द हिंदी में आज इस पोस्ट के माध्यम से जानने की कोशिश करेंगे की शरीर का पर्यायवाची शब्द तथा साथ ही श से पर्यायवाची शब्द हिंदी में | (Sharir Ka Paryayvachi Shabd in Hindi) के कुछ महत्वपूर्ण उदाहरण के माध्यम से इस पोस्ट को पढ़ेंगे।

sharir ka paryayvachi Shabd kya hota hai.png
sharir ka paryayvachi Shabd kya hota hai.png

पर्यायवाची शब्द किसे कहते हैं?

पर्यायवाची शब्द की परिभाषा : वह शब्द जो एक समान अर्थ (एक दूसरे की तरह अर्थ) रखते हैं। वो शब्द पर्यायवाची शब्द कहलाते हैं।

चुंकि इनके अर्थ में समानता अवश्य रहती है लेकिन इनका प्रयोग विभिन्न प्रकार से होता है पर्यायवाची शब्दों को उसके गुण व भाव के अनुसार प्रयोग किया जाता है क्योंकि एक ही शब्द या नाम हर स्थान पर उपयुक्त नहीं हो सकता है ‘इच्छा’ शब्द के स्थान पर ‘कामना’ शब्द प्रयोग करना कितना शर्मनाक होगा आपको ऐसे शब्दों का प्रयोग करना चाहिए जो छोटे व प्रचलित हो।

शरीर का पर्यायवाची शब्द क्या होता है?

शरीर का पर्यायवाची शब्दSharir Ka Paryayvachi Shabd
काया, बदन, अंग, देह, वपु, तन, जिस्म, कलेवर, अवय, गात्र, गातKaya, Badan, Ang, Deh, Wapu, Jism, Kalevar, Away, Gatra, Gaat

से शुरू होने वाले पर्यायवाची शब्द

  • शंकर – शिव, भोलेनाथ, महादेव, शम्भु, महेश, कैलाशपति, देवाधिदेव, उमापति, त्रिपुरारि, मदनारि, चन्द्रमौलि
  • शरण – पनाह, आश्रय, संश्रय, रक्षा, त्राण
  • शिथिल – ढीला, आलसी, सुस्त, मन्द, अशक्त
  • शिष्ट – सभ्य, नम्र, विनम्र, सौम्य, शालीन, भद्र, सम्भ्रान्त, अनुशासित
  • शस्त्र – हथियार, अस्त्र, आयुध
  • शाप – बद्दुआ, दुर्वचन, अवग्रह, 
  • शायद – कदाचित्, सम्भवतः, स्यात्, 
  • शालीन – नम्र, विनर्म, सौम्य, भद्र, शिष्ट, सलज्ज
  • शाश्वत – स्थायी, सनातन, नित्य, सर्वकालिक, अक्षय, चिरन्तर
  • शिकार – अहेर, मृगया, आखेट, 
  • शिकारी- अहेरी, बहेलिया, आखेटक, लुब्धक, व्यार्घ
  • शुभ – मंगल, मंगलकारी, मंगलप्रद, शुभकर, कल्याणकारी, कल्याणप्रद, शुभदा 
  • शून्य – खाली, रिक्त, हीन, रहित, विहीन
  • शृंगार – सिंगार, सजावट, भूषा, साजसज्जा, रूपसज्जा, 
  • शेर – सिंह, वनराज, शार्दूल, मृगराज, केशरी, हरि, केहरि, चित्रक, 
  • शेषनाग – नाग, फणीश, भुजंग, ब्याल, अहि, उरग, पन्नग, 
  • शैली – विधि, ढंग, रिति, प्रणाली, परिपाटी
  • शंका – शक, आशंका, सन्देह, सशय, शुबहा
  • शक्ति – ताकत, क्षमता, बल, सामर्थ्य, जोर
  • शनै: – धीरे, धीमा, हौले, आहिस्ता 
  • शपथ – कसम, प्रतिज्ञा, सौगन्ध, संकल्प, हलफ, सौह
  • शत्रु – दुश्मन, बैरी, विपक्षी, प्रतिद्वन्द्वी, रिपु, अरि, प्रतिपक्षी
  • शरीर – देह, बदन, अंग, तन,  काया, गात, वपु, 
  • शव – लाश, मुर्दा, मिट्टी, लोथ
  • शिखा – चोटी, चुटिया, चुण्डी, जूड़ा, 
  • शिरा – नस, नाड़ी, धमनी
  • शिल्पी – शिल्पकार, कारीगर, दस्तकार
  • शीघ्र – जल्दी, तुरन्त, तत्क्षण, अविलम्ब, त्वरित, क्षिप्र, आशु 
  • शुक्ल – सफेद, उजला, उज्ज्वल, श्वेत, शुभ्र, धौला, धवल, गौर, सित, अवदात
  • शोध – खोज, अनुसन्धान, गवेषणा
  • शोभा – सुन्दरता, सौन्दर्य, मनोहरता, छवि, छटा, सुषमा, मञ्जुलता
  • श्मशान – मरघट, कब्रगाह, मसान, दाहस्थल, 
  • श्रमिक – मजदूर, कामगार, श्रमजीवी, मेहनतकश, मिहनतकश, 
  • श्रेष्ठ – सर्वोपरि, मुख्य, उत्कृष्ट, प्रधान, उत्तम, विशिष्ट

शरीर से जुडे कुछ रोचक तथ्य

Sharir ka paryayvachi Shabd kya hai

शरीर – मानव शरीर बहुत ही भाग्य से प्राप्त होता है।

अंग – शरीर का प्रत्यय अंग बहुत ही महत्वपूर्ण है।

  • मानव शरीर के नाक व कान हमेशा बढ़ते रहते हैं मनुष्य की आंख 10 million अलग-अलग रंगों में अंतर ढूंढ सकती है।
  • मनुष्य के जन्म के समय 206 से अधिक हड्डियां होती हैं। लेकिन जैसे जैसे हम बड़े होते हैं। हमारे कुछ हड्डियां आपस में जुड़कर सिर्फ 206 रह जाती हैं।
  • मानव शरीर का 75% भाग पानी है। परंतु आपका दिमाग 80% पानी है।
  • मनुष्य का 96% DNA (deoxyribonucleic acid)
  • मानव मस्तिष्क में 100 अरब से अधिक तंत्रिका है।
  • मानव शरीर की जुबान सबसे मजबूत मांसपेशी है।

हमारा शरीर मिट्टी, पानी, अग्नि, वायु और शून्य से मिलकर बना है।

हमारे शरीर की सबसे बड़ी व सबसे छोटी हड्डी- 

सबसे बड़ी हड्डी हमारे जांग में होती है इसका नाम है फीमर

और सबसे छोटी हड्डी स्टेपीज जो हमारे कान में मौजूद है।

Leave a Comment