सर्वनाम किसे कहते हैं परिभाषा, भेद व उदाहरण | Sarvanam Kise Kahate Hain

नमस्ते दोस्तों मैं आप सभी लोगों का स्वागत करता हूं मैं Studyroot.in की तरफ से आज हम आपको सर्वनाम किसे कहते हैं (Sarvanam Kise Kahate Hain) के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर आएंगे हम पहले देखेंगे कि Sarvanam ke ke kitne bhed hote Hain और हम सर्वनाम के सभी भेदों को पढ़ने के साथ Sarvanam kise kahate Hain in Hindi Grammar यह पोस्ट क्लास 10 व 12 के छात्रों के लिए यह कहें 1 से लेकर 12 के सभी छात्रों के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है। मैंने इस को इस प्रकार लिखा है कि आप सर्वनाम के बारे में अधिकतम जानकारी प्राप्त कर सकें जिससे आपको दूसरी कोई पोस्ट पढ़ने की कोई जरूरत ना पढ़े।

Sarvanam Kise Kahate Hain
Sarvanam Kise Kahate Hain

सर्वनाम की परिभाषा | Sarvanam Ki Paribhasha

वाक्यों में एक बार संज्ञा का प्रयोग करते हैं तथा उसी संज्ञा के प्रयोग की आवश्यकता होने पर भी बाद के वाक्य में उसका प्रयोग नहीं कर सकते हैं उसके स्थान पर वह, यह, उसका आदि शब्दों का प्रयोग करते हैं।

संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले ये शब्द सर्वनाम कहलाते हैं।

सर्वनाम के प्रकार | Sarvanam Ke Prakar

हिंदी में सर्वनाम के निम्नलिखित 11 प्रकार होते हैं।

 मैं, तू, आप, यह, वह, जो, सो, कोई, कुछ, कौन, क्या

  • जिस शब्द का प्रयोग संज्ञा के बदले होता है उसे हम सर्वनाम कहते हैं। 
  • नाम के स्थान पर आने वाले शब्दों को ही सर्वनाम कहते हैं
  • जो किसी शब्द प्रसंग के अनुसार किसी संज्ञा के स्थान पर प्रयोग किए जाएं उन्हें सर्वनाम कहते हैं।

सर्वनाम के उदाहरण | Sarvanam Ke Udaharan

  • अमित ने कहा कि मैं मिठाई लूंगा। 
  • शालू ने राजू से कहा है। कि वह नहीं पढेगी।

 यहां ‘मैं’ और ‘वह’ सर्वनाम है।

सर्वनाम के भेद | Sarvanam Ke Bhed

 निम्नलिखित रुप से हिंदी में सर्वनाम के 6 भेद होते हैं 

  1. पुरुषवाचक सर्वनाम
  2. निश्चयवाचक सर्वनाम 
  3. अनिश्चयवाचक सर्वनाम
  4. संबंधवाचक सर्वनाम
  5. प्रश्नवाचक सर्वनाम 
  6. निजवाचक सर्वनाम

प्रयोग के अनुसार सर्वनाम के 6 भेद तथा तीन उपभेद हैं

पुरुषवाचक सर्वनाम | Purush Vachak Sarvanam

जो सर्वनाम किसी पुरुष के लिए प्रयोग में आता है उसे पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं।

 जैसे.  मैं, तुम, वह, आदि।

 पुरुषवाचक सर्वनाम के भेद

पुरुषवाचक सर्वनाम के तीन भेद हैं।

  • उत्तम पुरुष
  • मध्यम पुरुष
  • अन्य पुरुष

 उत्तम पुरुष

  • उत्तम पुरुष : बात कहने वाले को उत्तम पुरुष कहते हैं। इसमें एकल पुरूष होता है।

 जैसे. मैं, हम

  • मैं लिखता हूं।
  • हम दिल्ली जाएंगे।

 मध्यम पुरुष

  • मध्यम पुरुष :  जिससे बात कही जाए वह मध्यम पुरुष होता है। इसमें 2 पुरुष होते हैं।

 जैसे. तू, तुम आप 

  • तू कहां जा रहा है।
  • तुम अपना कार्य नहीं करते हो ।
  • आप दिल्ली से कब आ रहे हो ।

 अन्य पुरुष

  • अन्य पुरुष : जिस के संबंध में बात कही गई हो उसे अन्य पुरुष कहते हैं। इसमें तीन पुरुष होते हैं

जैसे. यह, वह, वे, वो, ये

  • वे कहां जा रहे हैं।
  • वह पापी है।
  • यह चोर हैं।
  • यह सिपाही है।

नोट: वह, यह, ये, वे, वो – वह किसी व्यक्ति या प्राणी के नाम के स्थान पर हो तो अन्य पुरुष कहते हैं।

 यदि वह, यह, वे, वो किसी वस्तु स्थान की निश्चिता बताने के लिए हो तो उसे निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं

निश्चयवाचक सर्वनाम | Nishchay Vachak Sarvanam

जिस सर्वनाम से किसी वस्तु का निश्चित बोध होता है उसे निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।

जैसे. यह, वह, वे, ये

  • वह अच्छी पुस्तक है।
  • वाह बहुत सुंदर है।
  • यह उपयोगी साधन है।
  • यह सर्प है।

यह मेरा घर है। – निश्चयवाचक सर्वनाम है।

यह घर मेरा है। – विशेषण है।

नोट: यदि सर्वनाम के तुरंत बाद संज्ञा आ जाती है तो हम उसे विशेषण कहते हैं।

अनिश्चयवाचक सर्वनाम | Anishchay Vachak Sarvanam

जिस सर्वनाम शब्दों से किसी वस्तु का निश्चित बोध नही होता है। उसे अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।

 जैसे. कोई, कुछ, किसी।

  • कोई आ रहा है।
  • कुछ चमक रहा है।
  • चाय में कुछ गिर गया है।[ चाय में क्या गिरा है कुछ निश्चित नहीं है]
  • वह कुछ लाया है।

संबंधवाचक सर्वनाम | Sambandh Vachak Sarvanam

जिस सर्वनाम से दो वस्तुओं अथवा व्यक्तियों का पारस्परिक संबंध प्रकट होता है। 

उसे संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं।

जैसे. का,की, के। रा,री, रे । ना, नी, ने । जो, सो, मेरा, मेरी, उसका, उसकी, उसके, इनका, इनकी, जिसका, जिसकी, तुम्हारा, तुम्हारी, आपका, आपकी आदि।

  • जिसकी लाठी उसकी भैंस। 
  • जो देता है सो लेता है। 
  • जो कहा गया वही करो।
  • वह मेरी किताब है।

इस उदाहरण में तो ‘वह’ निश्चयवाचक है। परंतु ‘मेरी’ संबंधवाचक है।

पेपर में यह पूछा जाएगा कि ‘वह या मेरी’ में से कौन सा सर्वनाम है।

यदि वह को पूछता है तो निश्चयवाचक होगा।

यदि ‘मेरी‘ को पूछता तो संबंधवाचक होगा।

प्रश्नवाचक सर्वनाम | Prashna Vachak Sarvanam

जिस सर्वनाम में प्रश्न का बोध होता है उसे प्रश्नवाचक सर्वनाम कहते हैं।

जैसे. कब, क्यों, क्या, कहते, कैसे, कौन, कहां (?)

प्रश्नवाचक सर्वनाम के उदाहरण |Prashna Vachak Sarvanam Ke Udaharan

  • आपका क्या नाम है?
  • यहां कौन है?
  • तुम कैसे आए?
  • तुम कहां रहते हो? 
  • वह क्या चाहता है?
  • कौन शोर कर रहा है?
  • तुझे क्या हो गया है?
  • आप कब सोते हो?

निजवाचक सर्वनाम | Nijvachak Sarvanam

जिस सर्वनाम में वक्ता या लेखक जहां अपने लिए ‘आप’ या ‘अपने आप’ शब्द का प्रयोग करता है। वहां निजवाचक सर्वनाम होता है।

निजवाचक सर्वनाम के उदाहरण | Nijvachak Sarvanam Ke Udaharan

  • आप जैसा समझे करें।
  • यह आपका ही हो गया।
  • मैं अपने आप काम पर लूंगा।
  • मैं तो अपने आप ही आता था।

आप भला तो जग भला।

संपूर्ण सर्वनाम एक नजर में

  1. पुरुषवाचक सर्वनाम

उत्तम पुरुष (कहने वाला)    –   मैं, हम

मध्यम पुरुष (सुनने वाला)   –   तू,तुम, आप (आदर से) 

अन्य पुरुष (जिसके बारे में)   –   यह वह ये वे वो

  1. निश्चयवाचक – यह, वह, ये, वे, (वस्तु या स्थान के लिए)।
  2. अनिश्चयवाचक – कोई, कुछ।
  3. संबंधवाचक – जिसका, जिसकी, मेरा, मेरी।
  4. प्रश्नवाचक – क्या, क्यों, कहां, कैसे, कब।
  5. निजवाचक – उत्तम पुरुष स्वयं के लिए

 

निष्कर्ष

दोस्तों आज की पोस्ट Sarvanam kise kahate Hain मैं उम्मीद करता हूं कि यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी मैंने Sarvanam in Hindi को सरलता के साथ समझाने की पूर्ण कोशिश की है। अगर कोई जानकारी Sarvanam kise kahate Hain और Sarvanam ke kitne bhed hote Hain in Hindi या अन्य किसी प्रकार की पोस्ट में हमसे कुछ छूट गया। हो तो आप नीचे कमेंट कर हमें सूचित कर सकते हैं। और हम आपके लिए आगे किस विषय पर जानकारी दें यह भी सुझाव जरूर बताएं आप आपके कमेंट का इंतजार रहेगा।

Leave a Comment