संख्यावाचक विशेषण की परिभाषा, उदाहरण व भेद | Sankhya Vachak Visheshan

स्वागत है दोस्तों आज की नई पोस्ट संख्यावाचक विशेषण (Sankhya Vachak Visheshan) में आज इस पोस्ट के माध्यम से जानने की कोशिश करेंगे की संख्यावाचक विशेषण किसे कहते हैं (Sankhya Vachak Visheshan Kise Kahate Hain) तथा सा ही संख्यावाचक विशेषण के कुछ महत्वपूर्ण उदाहरण के माध्यम से इस पोस्ट को पढ़ेंगे।

यदि आप संपूर्ण विशेषण का अध्ययन करना चाहते हैं तो आप यहां पर क्लिक करके संपूर्ण विशेषण के अध्ययन कर सकते हैं।

Sankhya Vachak Visheshan

विशेषण से संज्ञा का गुण अथवा विशेषता प्रकट होता है और उसके प्रयोग से जातिवाचक संज्ञा की व्यापकता मर्यादित हो जाती है।

जैसे – “बड़ा हाथी” कहने से हाथी की विशेषता व्यक्त होने के अतिरिक्त उसी हाथी का बोध होता है। जो बड़ा है।

संज्ञा के साथ सा, नामक, सम्बन्धी, रूपी आदि शब्दों को जोड़कर विशेषण का निर्माण करते हैं।

उदाहरण – चरण रूपी कमल, विद्या रूपी धन, फूल सा शरीर, ग्रह सम्बन्धी वस्तु, अर्जुन नामक पुत्र

संख्यावाचक विशेषण की परिभाषा | Sankhya Vachak Visheshan Ki Paribhasha

जिससे वस्तुओं (संज्ञा या सर्वनाम) की संख्या का बोध हो उसे संख्यावाचक विशेषण कहते हैं।

जैसे – दस पुस्तकें, तीन लड़के, चार कुर्सी, कुछ रुपए, एक मेज, दस गुने लोग, दोनों बहने आदि।

संख्यावाचक विशेषण के भेद | Sankhya Vachak Visheshan Ke Bhed

संख्यावाचक विशेषण के मुख्य दो भेद होते हैं।

  1. निश्चित संख्यावाचक विशेषण
  2. अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण

निश्चित संख्यावाचक विशेषण की परिभाषा | Nishchit Sankhya Vachak Visheshan

जिन विशेषण शब्दों से (संज्ञा या सर्वनाम) की निश्चित संख्या का बोध होता है। उन्हें निश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं।

जैसे – पहला, दूसरा, तीसरा, एक, दो, तीन, चार, इकहरा, दोहरा, तेहरा, तीनों, चारों, पांचो आदि।

निश्चित संख्यावाचक विशेषण के उदाहरण

  • एक किलो सेब
  • रोहित शर्मा ने दोहरा शतक लगाया।
  • यह मेरा आईएस का तीसरा टेस्ट है।
  • मेरे चार दोस्त दिल्ली गए हैं।
  • चारों भाई पुलिस में है।
  • अमित दो दर्जन केले लाया है।
  • रवि का एक बड़ा भाई है।
  • एक पेटी में कितने आम हैं।
  • टेस्ट के तीनों दिनों तक वह खड़ा रहा।
  • अशोक ने कक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त किया।
  • चार लीटर दूध से कितना पनीर बनेगा।
  • सात बजने में पांच मिनट बाकी है।
  • उन्हें यहां से गए दस मिनट हुए हैं।
  • इस घर में दो पुरुष और तीन स्त्रियां रहती हैं।
  • एक गिलास जूस दीजिए।
  • पढ़ते समय उसने दो भाइयों को देखा।
  • तुम्हारी घड़ी दो मिनट पीछे हैं।
  • सच में तुम्हें पहला स्थान मिला है।
  • तीन दिन की बदली के बाद आज धूप निकली है।
  • केवल एक किलो मिठाई दीजिए।

अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण की परिभाषा |Anishchit Sankhya Vachak Visheshan

जिन विशेषण शब्दों से (संज्ञा या सर्वनाम) की अनिश्चित संख्या का बोध होता है। उन्हें अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं।

जैसे – कुछ लोग, थोड़े फल

अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण के उदाहरण

  • पापा ने मुझे कुछ रुपए दिए थे।
  • मैंने कई खिलौने खरीदे थे।
  • अशोक ने मुझे थोड़े से फल दिए थे।
  • आकाश में कुछ पक्षी उड़ रहे हैं।
  • कई विद्यार्थी कक्षा में मौजूद नहीं है।
  • दादा जी के साथ कुछ और लोग भी हैं।
  • मैंने सरकार को कई पत्र लिखे।
  • नेताजी के खिलाफ कई लोगों ने प्रदर्शन किया था।
  • हमारे देश में कई सारे महापुरुषों का जन्म हुआ है।
  • पढ़ते वक्त मैंने कई बंदर देखें।
  • राकेश छुट्टियों में कई जगह घूमने गया था।
  • बैंक के कई कर्मचारी सोए हुए थे।

निश्चित संख्यावाचक विशेषण के प्रकार

निश्चित संख्यावाचक विशेषण के निम्नलिखित पांच प्रकार होते हैं जो इस प्रकार हैं।

  1. गणना बोधक 
  2. कर्म बोधक 
  3. आवृत्ति बोधक 
  4. समुदाय बोधक 
  5. प्रत्येक बोधक

गणना बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

यह वस्तुओं (संज्ञा या सर्वनाम) कि निश्चित गणना का बोध कराता है वहां पर गणना बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण होता है।

जैसे – तीन बैट, एक मेज, सात अमरूद, दस आदमी, तीन लोक, दो दिन पहले, एक गेंद, दो एंपायर आदि।

कर्म बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

जहां संज्ञा या सर्वनाम कर्म के अनुसार गणना का बोध कराता है तो वहां पर कर्म बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण होता है।

जैसे – पहला लड़का, तृतीय श्रेणी,

चौथी लड़की, दूसरी बहन, अतुल ने कक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त किया इत्यादि।

आवृत्ति बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

यह एक वस्तु का दूसरी वस्तु से अधिक होने का अनुपात बताता है।

जैसे – दूध से दोगुना पानी, चौगुना धन, सौ गुना लोग, दोगुना गेहूं, इस रैली में तीन गुना भीड़ है।

इस कार्य को करने में दोगुना समय लगता है।

समुदाय बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

यह संख्या के समुदाय का बोध कराता है।

जैसे – पांचों दोस्त, चारों भाई, तीनों लड़के, दोनों टीमें, तीनों बहनें, सातों घर, पांचों भाई पांडव, तीनों सेना, चारों ओर आदि।

प्रत्येक बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

यह अनेक वस्तुओं या व्यक्तियों में से हर एक का बोध कराता है उसे प्रत्येक बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं।

जैसे – एक एक नेता, प्रत्येक व्यक्ति, हर एक नेता, प्रत्येक छात्र, हर एक इंसान, प्रत्येक टीम, हर एक परीक्षा, एक एक पड़ोसी आदि।

संख्यावाचक विशेषण के अन्य उदाहरण

  • दशरथ के चार पुत्र हैं।

ऊपर दिए गए उदाहरण में चार पुत्र शब्द से दशरथ के चारों बेटों का बोध करा रहे हैं। इसी कारण इस वाक्य में संख्यावाचक विशेषण के अंतर्गत शामिल किया जाएगा।

 

  • एक किलो सेब।

ऊपर दिए गए उदाहरण में एक किलो शब्द से यह बोध हो रहा है एक किलो सेब का बोध हो रहा है इसी कारण इस वाक्य को संख्यावाचक विशेषण के अंतर्गत शामिल करेंगे।

 

  • मेरे चार दोस्त दिल्ली गए हैं।

ऊपर दिए गए इस उदाहरण में चार शब्द से दिल्ली गए दोस्तों का बोध करा रहे हैं। की चार दोस्त दिल्ली गए हैं इसी कारण इस उदाहरण को संख्यावाचक विशेषण के अंतर्गत शामिल किया गया है।

 

  • पापा ने मुझको कुछ रुपए दिए हैं।

ऊपर दिए गए इस उदाहरण में कुछ रूपए शब्द से पापा ने कितने रुपए दिए इस बात का बोध करा रहे हैं परंतु इस बात का यह निश्चित बोध नहीं है कि पिताजी ने कितने रुपए दिए हैं इसी कारण इस वाक्य को अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण में रखा गया है।

 

  • इस लाइन से चौथी लड़की उठाकर यहां आए।

ऊपर दिए गए उदाहरण में चौथी लड़की शब्द से इस बात का बोध हो रहा है कि लाइन में कितनी लड़कियां हैं परंतु जिस लड़की को बुलाया गया है वह चौथी है इसी कारण इस वाक्य को निश्चित संख्यावाचक विशेषण में शामिल किया गया है।

 

  • दूध से दोगुना पानी।

ऊपर दिए गए उदाहरण में दूध से दोगुना शब्द से इस बात का बोध हो रहा है कि दूध कितना भी हो उससे दोगुना पानी है इसी कारण इस वाक्य को संख्यावाचक विशेषण के अंतर्गत शामिल करेंगे।

 

  • चारों भाई बहुत ही शक्तिशाली हैं।

ऊपर दिए गए उदाहरण में चारों शब्द से भाइयों के विषय में उनकी शक्तियों का बोध करा रहे हैं। इसी कारण इस वाक्य को निश्चित संख्यावाचक विशेषण में शामिल किया गया है।

 

  • हर एक नेता चुनाव के समय वादा करता हैं।

ऊपर दिए गए उदाहरणों में हर एक शब्द से नेताओं के किए गए वादों का बोध करा रहे हैं इसी कारण इस वाक्य को निश्चित संख्यावाचक विशेषण में रखेंगे।

 

  • मैंने सरकार को कई पत्र लिखे।

ऊपर दिए गए उदाहरण में कई शब्द से उसके लिखे गए पत्रों का बोध हो रहा है परंतु या निश्चित नहीं है कि उसने सरकार को कितने पत्र लिखे हैं इसी कारण इस वाक्य को अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण के अंतर्गत रखेंगे।

 

  • हमारे देश में कई सारे महापुरुषों का जन्म हुआ।

ऊपर दिए गए उदाहरण में कई शब्द से हमारे देश में जन्मे महापुरुषों का बोध करा रहे हैं परंतु इस कारण इस वाक्य को अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण में शामिल करेंगे।

 

निष्कर्ष

छात्रों मैं उम्मीद करता हूं कि आपको आज की यह पोस्ट संख्यावाचक विशेषण किसे कहते हैं (Sankhya Vachak Visheshan Kise Kehte Hain) आपको पसंद आई होगी मैं इस पोस्ट को संख्यावाचक विशेषण को कुछ उदाहरण (Sankhya Vachak Visheshan Ke Udaharan) के माध्यम से समझने की संपूर्ण कोशिश की है जिससे आपको संख्यावाचक विशेषण आसानी से समझ में आ जाए।

यदि आपको संख्यावाचक विशेषण या इस पोस्ट से किसी प्रकार का कोई शिकायत है या आपको संख्यावाचक विशेषण (Sankhya Vachak Visheshan) से संबंधित कोई सुझाव देना है तो आप हमें कमेंट सेक्शन या फिर ईमेल के माध्यम से सूचित कर सकते हैं मैं आपके इस सवाल का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करूंगा आपके बहुमूल्य विचारों का इंतजार रहेगा।

स्टूडेंट यदि आपको संख्यावाचक विशेषण की पोस्ट अच्छी लगी है तो आप अपने मित्रों व परिवार के साथ ऐसे फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सएप्प पर शेयर कर सकते हैं।

Leave a Comment