STUDYROOT

अव्ययीभाव समास, परिभाषा, उदाहरण व भेद | Avyayibhav Samas Kise Kahate Hain

स्वागत है दोस्तों आज की नई पोस्ट अव्ययीभाव समास (Avyayibhav Samas) में आज इस पोस्ट के माध्यम से जानने की कोशिश करेंगे की अव्ययीभाव समास किसे कहते हैं?(Avyayibhav Samas kise Kahate Hain) अव्ययीभाव समास के कितने भेद होते हैं? तथा साथी में अव्ययीभाव समास (Avyayibhav Samas) के कुछ महत्वपूर्ण उदाहरण के माध्यम से इस संपूर्ण पोस्ट को पढ़ेंगे।
समास हिंदी व्याकरण का एक महत्वपूर्ण अंग है हर परीक्षा में समास से सवाल पूछे जाते हैं आज हम महत्वपूर्ण टॉपिक अव्ययीभाव समास की बात करने वाले हैं। तो देरी न करते हुए जानते हैं कि अव्ययीभाव समास किसे कहते हैं? (Avyayibhav Samas Kise Kahate Hain) अव्ययीभाव समास की परिभाषा, भेद व उदाहरण के साथ

Avyayibhav Samas Kise Kahate Hain
Avyayibhav Samas Kise Kahate Hain

अव्ययीभाव समास की परिभाषा | Avyayibhav Samas Ki Paribhasha

जिस समाज का पहला पद प्रधान होता है अर्थात जिस समस्त पद में प्रथम पद अव्यय, उपसर्गप्रधान हो तथा बाद वाला पद “संज्ञा” हो अव्ययीभाव समास होता है।

अव्ययीभाव समास की पहचान

प्रथम पद : अव्यय, उपसर्ग (होता है)
अव्यय : जो शब्द कल, लिंग, वचन तथा कारक के अनुसार परिवर्तन नहीं होते हैं उसे अव्यय कहते हैं।

अव्ययीभाव समास के उदाहरण | Avyayibhav Samas Ke Udaharan

समास समास विग्रह
यथाशक्तिशक्ति के अनुसार
प्रतिपलप्रत्येक पल
प्रशिक्षणप्रत्येक क्षण
प्रतिदिनदिन दिन या प्रत्येक दिन
यथाशीघ्रजितना शीघ्र हो
यथाक्रमक्रम के अनुसार
प्रत्यक्षअक्षि के आगे
यथमातीजैसी मति है
यथास्थानजो स्थान निश्चित है
प्रतिशतप्रत्येक शत (सैकड़ा)
समास समास विग्रह
प्रतिध्वनि ध्वनि के बाद ध्वनि
प्रतिद्वंदद्वंद के बदले द्वंद
यथोचितजैसा उचित है
यथासमयसमय के अनुसार
यथाअवसरअवसर के अनुसार
प्रतिहिंसाहिंसा के बदले हिंसा
यथाक्रमक्रम के अनुसार
यथाविधिविधि के अनुसार
यथेच्छाइच्छा के अनुसार
प्रत्युपकारबदले में उपकार
यथार्थजैसा अर्थ है वैसा

नाम पद पूर्व अव्ययीभाव समास किसे कहते हैं?

नाम पद पूर्व अव्ययीभाव समास की परिभाषा

जिस शब्द के पहले उपसर्ग लगा रहता है उसमें अव्ययीभाव समास (नाम पद पूर्व अव्ययीभाव समास) होता है और वह शब्द अव्यय की तरह कार्य करता है।
जैसे - बेईमान बिना मन के
        बाकायदा कायदे के अनुसार

उपर्युक्त इन दोनों शब्दों से पूर्व लगे बे, बा अवव्य पद प्रधान है। उनके अनुसार अर्थ स्पष्ट होता है। इसी कारण इसे अव्ययीभाव समास कहते हैं। क्योंकि अव्यय के कारण भाव बदल रहा है।

नामपद पूर्व अव्ययीभाव समास के उदाहरण

समास समास विग्रह
आसमुद्रसमुद्र पर्यंत
निडरबिना डर के
बाकायदाकायदे के अनुसार
नासमझबिना समझ के
बेचैनबिना चैन के
निर्विकारबिना विकार के
दरअसलअसल में
अभूतपूर्वकजो पूर्व में नहीं हुआ है
भरपेटपेट भरकर
बेशक बिना शक के
समास समास विग्रह
निरोगरोग रहित
बेकायदाबिना कायदा के
सावधानअवधान सहित
आकंठकंठ तक
बेईमानबिना ईनाम के

अव्यय पद पूर्ण अव्ययीभाव समास किसे कहते हैं?

अव्यय पद पूर्ण अव्ययीभाव समास के उदाहरण

समास समास विग्रह
एक-एकएक के बाद एक
घर-घरप्रत्येक घर
कानो-कानकान ही कान में
एकाएकएक के बाद एक
रातों-रातरात ही रात में
भागम भागभागने के बाद भगाना
साफ-साफसाफ के बाद साफ
हाथों हाथएक हाथ से दूसरे हाथ तक
बीचों-बीचठीक बीच में
सुना-सनीसुनने के बाद सुनना
घड़ी-घड़ीहर घड़ी
चला चलीचलने के बाद चलना
बार-बारबार के बाद बार
धड़ाधड़धड़ के बाद पुनः धड़

अव्ययीभाव समास की पहचान

जिस समाज का पहला पद "यथा" और "प्रत्यय" से शुरू होता है। उसमें सदैव अव्ययीभाव समास होता है।
तथा अव्ययीभाव समास पहचानने के लिए प्रथम पद अव्यय के रूप में , अनु, प्रति, यथा, भर, हर इत्यादि शब्द प्रयुक्त होते हैं। इन्हीं शब्दों से अधिकतर अव्ययीभाव समास मिल जाते हैं।

निष्कर्ष

छात्रों में उम्मीद करता हूं की आपको आज की यह पोस्ट अव्ययीभाव समास आपको पसंद आई होगी मैं इस पोस्ट में अव्ययीभाव समास के उदाहरण (Avyayibhav Samas Ke Udaharan) के माध्यम से समझने की कोशिश की है जिससे आपको आसानी से समझ में आ जाए।

यदि आपको अव्ययीभाव समास (Avyayibhav Samas) कि इस पोस्ट में किसी प्रकार की कोई शिकायत है। या आपको समास से संबंधित कोई सुझाव देना है तो आप हमें कमेंट सेक्शन या फिर ईमेल के माध्यम से सूचित कर सकते हैं मैं इस त्रुटि को जल्द से जल्द सुधारने का प्रयास करूंगा। आपके बहुमूल्य विचारों का इंतजार रहेगा। आपको अव्ययीभाव समास (Avyayibhav Samas) कि यह पोस्ट अच्छी लगी है तो आप अपने मित्रों व परिवार के साथ इस व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर पर शेयर कर सकते हैं। धन्यवाद!

Exit mobile version